मोटापा कम करने के लिए करें कार्डियो एक्सरसाइज,आसानी से होंगी पेट की चर्बी गायब।

मोटापा कम करने के लिए करें कार्डियो एक्सरसाइज, आसानी से होंगी पेट की चर्बी गायब। (Do cardio exercises to reduce obesity, abdominal fat will disappear easily.)

आपने अपनी जिंदगी में कभी न कभी कार्डियो शब्द के बारे में सुना होगा। आपका कोई दोस्त या आप खुद जिम जाते होंगे, तो कार्डियो नाम के शब्द से जरूर रूबरू हुए होंगे। ऐसा भी हो सकता है कि आपने इसके बारे में सुना होगा, लेकिन पूरी तरह से नहीं पता होगा कि कार्डियो किसे कहते हैं और किन-किन एक्सरसाइज़ को कार्डियो में गिना जाता है। कार्डियो शब्द ग्रीक भाषा से लिया गया है, जिसका मतलब होता है दिल। एक नॉर्मल इंसान का दिल एक मिनट में करीब 60-80 बार तक धड़कता है। कोई भी एक्सरसाइज़, वर्जिस, डांस कुछ भी करने की वजह से हार्ट बीट नॉर्मल से डेढ़ गुना तक पहुंचना कार्डियोवेस्कुलर कंडिशन कहलाता है। यानि एक्सरसाइज, वर्कआउट की वजह से आपके दिल की धड़कन 1 मिनट में 100-130 का आंकड़ा पार कर जाए तो वो कार्डियो की श्रेणी में गिनी जाती है।

कार्डियो के लिए कुछ एक्सरसाइज़ फिक्स होती है। इसमें ट्रेडमिल पर चलना-दौड़ना, साइकिलिंग करना, रस्सी कूदना, सीढ़ी उतरना चढ़ना, बिना रस्सी के कूदने जैसी नॉर्मल एक्सरसाइज़ शामिल होती हैं। इन एक्सरसाइज़ की वजह से आपका दिल ज्यादा तेजी से धड़कने लगता है। इंसानी दिल का काम शरीर में खून के प्रवाह को बनाए रखना होता है। हार्ट बीट बढ़ने पर खून का प्रवाह बढ़ेगा और ये हमारे शरीर के लिए उतना ही अच्छा होगा।

रस्सी कूदना

रस्सी कूदना कार्डियो का बढ़िया तरीका है। यह न सिर्फ आपके दिल की सेहत को बनाए रखेगा बल्कि शरीर में खून के प्रवाह को भी सुधारेगा। इसके साथ ही इस तरीके से पैरों को मजबूती मिलेगी और बैलेंस सुधरेगा।

कैसे करें :

  • स्किपिंग रोप को पकड़कर एकदम सीधे खड़े हो जाएं। हाथों को शरीर से करीब एक फुट की दूरी पर रखें।
  • अब रस्सी को पीछे से आगे लाकर पीछे की ओर ले जाएं। जब रस्सी आगे से पीछे की ओर जाए, तो उसके ऊपर से कूदें।
  • ध्यान रहे कि आपको पंजे के बल कूदना है और हाथों व कलाइयों के जरिए रस्सी को घूमाना है।

नोट : एक सेट में 25-30 बार जंप किया जा सकता है। इस तरह के तीन सेट किए जा सकते हैं।

डांसिंग

घर पहुंचिए और पसंद का डांस म्यूजिक ऑन कर दीजिए। अब जमकर डांस करिए। डांसिंग से व्यक्ति को स्टैमिना बढ़ाने, ब्लड सर्कुलेशन सुधारने, मसल्स को मजबूत बनाने और लंग्स मजबूत करने में मदद मिलती है।

साइकलिंग

साइकलिंग की सबसे खास बात यह है कि इसके लिए किसी खास तरह की तैयारी जरूरत नहीं होती। कार्डियो के इस तरीके से लंग्स को मजबूती मिलती है और शरीर में ज्यादा ऑक्सिजन जाती है। इसके साथ ही पैरों की मसल्स स्ट्रॉन्ग बनती हैं जिससे उम्र के साथ पैरों में होने वाली कमजोरी की शिकायत दूर रहती है।

Also Click : Kya aap Weight Loss karna Chahte Hain. To try Kre effective Products.

इनडोर साइकलिंग

घर के बाहर साइकलिंग पर नहीं जाना चाहते तो कोई बात नहीं। इनडोर साइकिल खरीदें और इनडोर ही साइकलिंग के सभी फायदे लें।

बॉक्सिंग या किक बॉक्सिंग

स्टैमिना बढ़ाने के साथ ही डिफेंस का मेथड सीखना है तो बॉक्सिंग व किक बॉक्सिंग बेस्ट ऑप्शन है। ये तरीके आपके बॉडी फैट को बर्न करने के साथ ही शरीर को कार्डियो की दूसरी एक्सर्साइज वाले सभी फायदे पहुंचाएंगे।

सीढ़ियां चढ़ना-उतरना

घर में अगर सीढ़ियां है और अगर आप रोज इन्हें 15 से 20 मिनट चढ़ें या उतरें तो आपका शानदार वर्कआउट हो जाएगा।

जम्प लंज

यह भी बेहतरीन कार्डियो एक्सरसाइज है। इसे घर में आसानी से किया जा सकता है। इसे करने से जांघों की मांसपेशियां मजबूत होती हैं। जम्प लंज करते हुए ह्रदय की गति कई गुना बढ़ जाती है और पूरे शरीर में रक्त का संचार अच्छी तरह से होता है।

कैसे करें :

  • इसे करने के लिए भी सीधे खड़े हो जाएं और कमर व सिर को सीधा रखें।
  • अब दोनों बाजुओं को कोहनियों से मोड़ते हुए कमर के पास ले आएं।
  • फिर दायां पैर आगे निकालते हुए झुकें, जबकि बाएं हाथ को छाती के पास और दाएं हाथ को पीठे के पीछे रखें। यह अवस्था बिल्कुल उसी तरह की होगी, जब हम दौड़ने के लिए तैयार होते हैं।
  • अब आप जितना ऊपर उछल सकते हैं उछलें और वापस नीचे आते समय बाएं पैर को आगे लाते हुए उसे मोड़ें, जबकि दाएं पैर को पीछे ले जाएं। हाथों की अवस्था भी उसी प्रकार बदलेगी।
  • इस प्रकार एक चक्र पूरा हो जाएगा। इसे आप लगातार तेजी से करते रहें।

नोट : इस प्रकार 30 चक्र के करीब दो सेट करें और कुछ दिनों बाद एक सेट में करीब 100 चक्र करें।

हाई नी मार्च (high knee march)

हाई नी मार्च (high knee march)

कार्डियो एक्सरसाइज की श्रेणी में हाई नी मार्च को करना सबसे आसान है, लेकिन इसे करने में काफी ऊर्जा खर्च होती है। यह एक्सरसाइज करने से आपके नितम्बों, जांघों और पेट के ऐब्स को अच्छी शेप मिल सकती है। साथ ही शरीर की सहनशक्ति में वृद्धि होती है।

कैसे करें :

  • बिल्कुल सीधे खड़े हो जाएं। आपके पैर आपस में मिले हुए होने चाहिए और हाथ शरीर के साथ सीधे।
  • अब बाएं हाथ को कोहनी से मोड़ते हुए छाती तक लेकर आएं, जबकि दाएं पैर को घुटने से मोड़ते हुए ऊपर लाएं।
  • फिर दाएं पैर व बाएं हाथ को नीचे लाएं और बाएं पैर व दाएं हाथ को ऊपर उठाएं। यह प्रक्रिया बिल्कुल उसी तरह होगी, जैसे हम सामान्य रूप से चलते हैं। बस इसमें एक ही जगह खड़े होकर पैरों को ऊपर-नीचे करना है।
  • इसे न तो धीरे-धीरे करें और न ही तेज, तभी इसका फायदा होगा।
  • करीब 50 की गिनती तक इसे करें, जिसमें आपके मुश्किल से 20 सेकंड लगेंगे।

माउंटेन क्लाइमबर

इसे करने से शरीर की काफी कैलोरी बर्न होती है, ऐब्स व जांघों को बेहतरीन शेप मिलती है, मांसपेशियां मजबूत होती हैं और रक्त का संचार बेहतर होता है। कार्डिया एक्सरसाइज में इसे भी आजमाया जा सकता है।

कैसे करें :

जमीन पर पेट के बल लेट जाएं और हाथों को कंधों के पास लाते हुए जमीन से सटाकर रखें।

  • इसके बाद हाथों के बल शरीर को ऊपर उठांए। इस अवस्था में शरीर का पूरा भार हथेलियों व पंजों पर होना चाहिए।शरीर ऊपर से लेकर नीचे तक सीधा होना चाहिए।
  • अब बाएं घुटने को मोड़ते हुए छाती के पास ले आएं और करीब दो सेकंड इसी अवस्था में रहें।
  • फिर बाएं पैर को वापस पीछे ले जाएं और तुरंत दाएं पैर को आगे ले आएं।
  • इस तरह आपका एक चक्र पूरा हो जाएगा। अब बिना ब्रेक के इसे लगातार करें।

नोट : इसके करीब दो सेट करें और हर सेट में 20 चक्र करें, जिसे बाद में बढ़ाकर 50 तक ले जाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay in Touch

To follow the best weight loss journeys, success stories and inspirational interviews with the industry's top coaches and specialists. Start changing your life today!

Related Articles