सेंधा नमक कैसे बनते हैं तथा सेंधा नमक के 10 फायदे।

सेंधा नमक कैसे बनते हैं तथा सेंधा नमक के 10 फायदे। (How to make rock salt and 10 benefits of rock salt.)

 

सेंधा नमक को सबसे अच्छा माना गया है l रासायनिक रूप से, सेंधा नमक को रॉक साल्ट / बे साल्ट माना जाता है ।

सेंधा नमक की उत्पत्ति लाखों साल पहले वाष्पित समुद्र की सतह से होती है जहा यह शुद्ध क्रिस्टल के रूप में पाया जाता है। इस नमक में मानव शरीर में पाए जानेवाले लगभग सभी तत्व शामिल है।

सेंधा नमक संभवतः नमक का शुद्धतम रूप है, जो पर्यावरण प्रदूषकों, रसायन घटकों से मुक्त है और इसे शोधन प्रक्रिया की आवश्यकता नहीं है। इसमें कैल्शियम, आयरन, जिंक, पोटेशियम, मैग्नीशियम, कॉपर जैसे 84 खनिज होते है। सेंधा नमक का उपयोग बाहरी और आंतरिक रूप से किया जाता है और इसके खनिजों की संरचना हमारे शरीर के समान होने से यह आसानी से अवशोषित हो जाता है।

सेंधा नमक के लाभ : Benefits of rock salt

1. यह मृत त्वचा कोशिकाओं को एक्सफोलिएट करने में और त्वचा के छिद्रों को साफ करने में मदत करता है। त्वचा के प्राकृतिक परत की रक्षा कर, त्वचा को स्वस्थ और मजबूत बनाने में भी मदत करता है।यह त्वचा को फिर से rejuvenate करके युवा और toned दिखने में मदत करता है।

2. सेंधा नमक हाई ब्लडप्रेशर को कंट्रोल करने में काफी लाभदायक है। इसी के साथ यह कोलेस्ट्रॉल कम करने में मदद करता है जिससे हार्ट अटैक का खतरा कम रहता है।

3. आयुर्वेदिक में, सेंधा नमक का उपयोग पेट के कीड़े, सीने में जलन, गैस, कब्ज, पेट दर्द और उल्टी सहित विभिन्न पाचन बीमारियों के लिए एक घरेलू उपचार के रूप में किया जाता है।टेबल नमक की जगह खाने में इसका उपयोग करेl एक गिलास लस्सी में सैंधव नमक और ताज़े पुदीने की कुछ पत्तियाँ डालकर पिए।

4. पानी में सेंधा नमक डालकर गरारा करने से गले की खराश, टॉन्सिल्स, सूखी खांसी, साइनस और अन्य बीमारियों में मदत मिल सकती है।पानी में सेंधा नमक घोलें और भाप लें।

5. सेंधा नमक इंसुलिन को फिर से सक्रिय करके शुगर क्रेविंग्स (sugar cravings) को कम करता है, और इसके परिणामस्वरूप वजन कम होता है।टेबल नमक के बजाय फलों पर थोड़ा सेंधा नमक छिड़क सकते हैं।खाने में भी टेबल साल्ट की जगह सैंधव नमक का इस्तमाल करे।

Also Read :- क्या आप मोटापे से परेशान हैं ?

6. सेंधा नमक शरीर और दिमाग को आराम देने में मदत करता है। यह सेरोटोनिन और मेलाटोनिन हार्मोन्स का बैलेंस बनाएं रखता है जो तनाव से लड़ने में मदद करते है lतनाव और चिंता होनेपर, पानी में एक बड़ा चम्मच सेंधा नमक मिलाएं और आराम से स्नान करें।

7. सेंधा नमक मेलाटोनिन के स्तर को नियंत्रित कर नींद चक्र को नियंत्रित करता है।

8. सेंधा नमक बालों से प्राकृतिक तेलों को अलग किये बिना गंदगी हटाता है।इसे अपने सामान्य शैम्पू में मिलाएं और इससे बालों को धो लें।

9. मसूड़ों से खून निकलता हो तो १ चम्मच सेंधा नमक, त्रिफला चूर्ण और नीम पाउडर मिलाकर मसूड़ों की मालिश करें और पानी से कुल्ला करें।

10. सेंधा नमक सभी आवश्यक ट्रेस खनिज प्रदान करता है और शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को बेहतर बनाता है। यह हानिकारक बैक्टीरिया से लड़ता है और बीमारियों को दूर करने में मदत करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay in Touch

To follow the best weight loss journeys, success stories and inspirational interviews with the industry's top coaches and specialists. Start changing your life today!

Related Articles